Sharab Shayari – 10 behtreen sharab shayari

Sharab Shayari  1 :

Sharab Shayari :

एक जहान माँगा था जिसमे बहुत सारा pyara मिले

मगर दे दिया मैख़ाना जहा बहुत सारी sharaab थी

एक andha माँगा था जिसका मुझे सहारा मिले

मगर दे दी जिंदगी जहाँ duniya भर की तन्हाई थी

Sharab Shayari
Sharab Shayari

Sharab Shayari  2 :

तुम हसीन हो gulaab जैसी हो

बहुत नाजुक हो khwab जैसी हो

दिल की dhadkan में आग लगाती हो

होठों से लगाकर पी जाऊँ तुम्हे सर से पांव तक sharab जैसी हो

Sharab Shayari
Sharab Shayari

Sharab Shayari  3 :

खुशियों से नाराज है मेरी zindagi

प्यार की मोहताज़ है मेरी zindagi

हंस लेता हूँ लोगो को dikhane के लिए

वरना दर्द की kitaab है मेरी जिंदगी

Sharab Shayari
Sharab Shayari

Sharab Shayari  4 :

मैं तोड़ लेता अगर तू gulaab होती,

मैं jawaab बनता अगर तू सवाल होती

सब जानते है मैं nasha नही करता

मगर मैं भी पी लेता अगर तू sharab होती

Sharab Shayari
Sharab Shayari

Sharab Shayari  5 :

नशा मोहब्बत का हो या sharab का

होश dono में खो जाते है

फर्क सिर्फ इतना है की sharab सुला देती है

और मोहब्बत rula देती है

Sharab Shayari
Sharab Shayari

Shayari  6 :

तुम क्या जानो sharab कैसे पिलायी जाती है

खोलने से पहले botal हिलाई जाती है

फिर अबाज़ लगाई जाती है आ जाओ toote दिल वालो

यहाँ दर्दे-दिल की दबा pilai जाती है

Sharab Shayari

Shayari  7 :

रात हम piye हुए थे मगर

आप की आँखें भी sharabi थीं

फिर हमारे kharab होने में

आप ही कहिये क्या kharabi थी

Raat hum piye hue the magar

Shayari  8 :

प्यार और शराब में chota सा फर्क हैं

लेकिन ये फर्क bahut बड़ा हैं

प्यार dard देता हैं

शराब दर्द bhula देता हैं

Pyaar aur sharab meh chota

Shayari  9 :

मैं खुदा का naam लेकर पी रहा हूँ दोस्तों,

ज़हर भी इसमें अगर होगा dawa हो जाएगा,

सब उसी के हैं, hawa, खुशबू, ज़मीनो-आसमाँ

मैं जहाँ भी jaunga उसको पता हो जाएगा

Mai khuda ka naam lekar pee rha hu dosto

Shayari  10 :

mehfil में चल रही थी

हमारे katl की तैयारी

hum पहुँचे तो बोलें

बहुत लम्बी umar है तुम्हारी

Mehfil meh chal rhi thi

waah shayar

We at waah shayari provide you with the best shayari collection you can find on the internet.

Leave a Reply