Sad Shayari in Hindi – Dukh baari pyaari shayari

 

Sad Shayari 1 :

Sad Shayari :

 

ये तेरी चाहत मुझे किस मोड़ पर ले आई,
इस दिल में गम है,और दुनिया में रुसबाई,
अब तो कटता है हर पल सदियों के बराबर,
अब तो लगता है के मार ही डालेगी तेरी ये जुदाई।

Yeh teri chahat mujhe kis mod par le aayi,
Iss dil me gaam he, aur duniya me ruswayi,
Ab toh kat ta he har pal sadiyo ke barabar,
Ab toh lagta he ke maar hi dalegi teri yeh judai.

 

Sad Shayari
Sad Shayari

 

Sad Shayari 2 :

हर घड़ी इस जिंदगी को आज़माया है हमने,
इस जिंदगी में सिर्फ गम पाया है हमने,
जिस ने हमारी कभी कदर ही न जानी,
उस वेबफा को इस दिल में बसाया है हमने।

Har ghadi iss zindagi ko aajmaya he humne,
Iss zindagi me sif gaam payahe hum ne,
Jisne hamari kabhi kadar hi na jani,
Uss bewafa ko iss dil me basaya he humne.

 

Sad Shayari
Sad Shayari

 

Shayari 3 :

वो बिछड़ के हमसे ये दूरियां कर गई,
न जाने क्यों ये मोहब्बत अधूरी कर गई,
अब हमे तन्हाइयां चुभती है तो क्या हुआ,
कम से कम उसकी सारी तमन्नाएं तो पूरी हो गई।

Woh bichad ke humse ye doriyaan kar gai,
Na jaane kyon ye mohabbat adhoori kar gai,
Ab hame tanhaiyaan chubhti hai to kya hua,
Kam se kam uski saari tamanaen to poori ho gai.

 

Sad Shayari
Sad Shayari

 

Shayari 4 :

होले होले कोई याद आया करता है,
कोई मेरी हर साँसों को महकाया करता है,
उस अजनबी का हर पल शुक्रिया अदा करते हैं,
जो इस नाचीज़ को मोहब्बत सिखाया करता है।

Haule haule koi yaad aaya karta hai,
Koi meri har saanson ko mahkaya karta hai,
Uss ajnabi ka har pal shukriya aada karte hain,
Jo iss naacheez ko mohabbat sikhaaya karta hai.

 

Sad Shayari

Shayari 5 :

मुझे दिल से यूँ पुकारा न करो,
यूँ आँखों से हमे इशारा न करो,
दूर हूँ तुझसे मजबूरी है मेरी,
यूँ तन्हाइयों में मुझे तड़पाया न करो।

Mujhe dil se yoon pukara na karo,
Yoon aankhon se hame ishaara na karo,
Door hoon tujhse majabori hai meri,
Yoon tanhaiyon mein mujhe tadpaya na karo.

 

Sad Shayari

Shayari 6 :

ख्वाइशें तमाम पिघलने लगी है,
फिर से एक और शाम ढलने लगी है,
उनसे मुलाकात के इंतज़ार में बैठे है,
अब ये जिद भी तो हद से गुजर ने लगी है।

khwaishein tamam pighlane lagi hai,
Phir se ek aur shaam dhalane lagi hai,
Unse mulaakaat ke intazaar mein baithe hai,
Ab ye zid bhi to had se gujar ne lagi hai.

 

Sad Shayari

 

waah shayar

We at waah shayari provide you with the best shayari collection you can find on the internet.

Leave a Reply