Chand Shayari – khubsurat chand shayari in hindi

Chand Shayari 1 :

Chand Shayari :

मुहब्बत में झुकना कोई अजीब बात नहीं,

चमकता सूरज भी तो ढल जाता है चाँद के लिए…

Mohabbat Me Jhukana Koi Ajeeb Baat Nahi,

Chamakata Suraj Bhi To Dhal Jata Hain,

Chand Ke Liye

Chand Shayari
Chand Shayari

Chand Shayari  2:

सारी रात गुजारी हमने इसी इन्तजार में की,

अब तो चाँद निकलेगा आधी रात में….

Sari Raat Guzari Hamane Isi Intzaar Me Ki,

Ab To Chand Nikalega Aadhi Raat Me.

Chand Shayari
Chand Shayari

Chand Shayari 3 :

चाँद से प्यारी चादनी,

चादनी से प्यारी रात,

रात से प्यारी ज़िन्दगी,

ज़िन्दगी से प्यारे आप ….

Chand Se Pyari Chandini,

Chandini Se Pyari Raat,

Raat Se Pyari Zindagee,

Zindagee Se Pyare Aap…

Chand Shayari
Chand Shayari

Shayari 4 :

तू अपनी निगाहों से न देख खुद को,

चमकता हीरा भी तुझे पत्थर लगेगा,

सब कहते होंगे चाँद का टुकड़ा है तू,

मेरी नजर से चाँद तेरा टुकड़ा लगेगा।

Tu Apni Nigahon Se Na Dekh Khud Ko

Chamakta Heera Bhi Tujhe Patthar Lagega,

Sab Kehte Honge Chand Ka Tukda Hai Tu,

Meri Nazar Se Chand Tera Tukda Lagega.

Chand Shayari

Shayari 5 :

पत्थर की दुनिया जज़्बात नहीं समझती,

दिल में क्या है वो बात नहीं समझती,

तनहा तो चाँद भी सितारों के बीच में है,

पर चाँद का दर्द वो रात नहीं समझती।

Patthar Ki Duniya Jazbaat Nahi Samjhati,

Dil Mein Kya Hai Wo Baat Nahi Samajhati,

Tanha Toh Chaand Bhi Sitaaron Ke Bheech Mein Hai,

Par Chaand Ka Dard Wo Raat Nahi Samjhati.

Chand Shayari

Shayari 6 :

कितना हसीन चाँद सा चेहरा है,

उस पर शबाब का रंग गहरा है,

खुदा को यकीन न था वफ़ा पर,

तभी चाँद पर तारों का पहरा है।

Kitna Haseen Chaand Sa Chehra Hai,

Us Par Shabab Ka Rang Gahra Hai,

Khuda Ko Yakeen Na Tha Wafa Par,

Tabhi Chaand Par Taaron Ka Pahara Hai.

Chand Shayari

Shayari 7 :

न चाहकर भी मेरे लब पर

ये फरियाद आ जाती है,

ऐ चाँद सामने न आ

किसी की याद आ जाती है।

Na Chaahkar Bhi Mere Lab Par

Ye Fariyad Aa Jati Hai,

Ai Chand Samne Na Aa

Kisi Ki Yaad Aa Jati Hai.

Chand Shayari

Shayari 8 :

ऐ चाँद मुझे बता तू मेरा क्या लगता है,

क्यूँ मेरे साथ सारी रात जगा करता है,

मैं तो बन बैठा हूँ दीवाना उनके प्यार में,

क्या तू भी किसी से बेपनाह मोहब्बत करता है।

Aye Chaand Mujhe Bata Tu Mera Kya Lagta Hai,

Kyu Mere Saath Sari Raat Jaga Karta Hai,

Main Toh Ban Baitha Hu Diwana Unke Pyaar Mein,

Kya Tu Bhi Kisi Se Bepanah Mohabbat Karta Hai.

Aye Chaand Mujhe Bata Tu Mera Kya Lagta Hai

Shayari 9 :

बेचैन इस क़दर था कि सोया न रात भर
पलकों से लिख रहा था तेरा नाम चाँद पर।

Bechain iss qadar the ki soya na raat bhar,

Palko se likh rha tha tera naam chand par

Bechain iss qadar the ki soya na raat bhar

Shayari 10 :

रातों में टूटी छतों से टपकता है चाँद,

बारिशों सी हरकतें भी करता है चाँद…

Raato Me Tuti Chhaton Se Tapakata Hain Chand,

Baarisho Si Harakate Karata Hai Chand…

Raato Me Tuti Chhaton Se Tapakata Hain

Chand shayari

Click here to read this amazing post.

waah shayar

We at waah shayari provide you with the best shayari collection you can find on the internet.

Leave a Reply